! !

शुक्रवार, फ़रवरी 26

हींग तेरे क्या क्या रंग!


हींग गर्म तीक्ष्ण वात कफ़ और शूल को नष्ट करती  है और पित प्रकोपक होती है! यह रस मे कटु और उष्ण वीर्य होती है ! भोजन में रुचि उत्पन्न करती है! हींग को सौंफ़ के अर्क में देने से मूत्रावरोध में लभ होता है! हींग को पानी घोल कर नाक में उसकी बूंदे ढालने से आधा सीसी रोग में आराम मिलता है! हींग को पानी में उबाल कर इस पानी से कुल्ले करने से दांत का दर्द दूर होता है! अथवा दांत के पीले भाग मेम हींग भरने से दन्तकृमि नष्ट हो जाते है और दांत की पीड़ा मिट जाती है! हींग के सेवन से गर्भाशय की शुद्धि होती है मासिक धर्म साफ और समय से होने लगता है ! उदर वेदना को मिटाता है! निम्न चूर्ण को बना कर सेवन करने से अनेक रोगों में लाभ देने वाल होता है ! घी में सेंकी हुई हींग और काली मिर्च सेंधा नमक अजवाईन ज़ीरा सफेद और शाह ज़ीरा को समभाग में मिला कर चूर्ण बनाये ! थोड़ा चुर्ण भोजन से पूर्व खाने से अजीर्ण वायु हैजा आदि रोगों में आराम मिलत है! गर्म पानी के साथ मटर के बराबर हींग निगल जाने से उदरशूल अतिसार हिचकी और उल्टी में शीघ्र आराम मिलता है! कब्जियत के पुराने रोगियों के लिये हींग लाभदायक होत है! पेट दर्द होता हो तो हींग को थोड़े से पानी में मिला कर नाभि के आसपास और पेट पर इसका लेप लगाने से आराम मिलता है! बच्चों के पेत मरोड़ हो रहा हो तो नाभि के ऊपर लेप लगाने से बच्चे को आराम मिल जाता है ! हींग तो हींग है इसके क्या कहने.......
मित्रों के साथ साँझा करें

2 COMMENTS:

Udan Tashtari on 26 फ़रवरी 2010 को 6:56 pm ने कहा… Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

गुणकारी हींग के लाभ बताने के लिए आभार!

चन्द्र कुमार सोनी on 28 फ़रवरी 2010 को 1:44 am ने कहा… Best Blogger Tips[Reply to comment]Best Blogger Templates

excellent.
kya aap mujhe yeh bataa sakte hain ki-heeng ko english main kya kehte hain???
thanks.
WWW.CHANDERKSONI.BLOGSPOT.COM

एक टिप्पणी भेजें

" आधारशिला " के पाठक और टिप्पणीकार के रूप में आपका स्वागत है ! आपके सुझाव और स्नेहाशिर्वाद से मुझे प्रोत्साहन मिलता है ! एक बार पुन: आपका आभार !

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

लेखा जोखा



आपके पधारने के लियें धन्यवाद Free Hit Counters

Creative Commons License
This work is licensed under a Creative Commons Attribution-NonCommercial-NoDerivs 3.0 Unported License.
 
ब्लोगवाणी ! चिठाजगत ! INDIBLOGGER ! BLOGCATALOG ! हिंदी लोक ! NetworkedBlogs ! INDLI ! VOICE OF INDIANS हिंदी टिप्स ! हिमधारा ! ऐसी वाणी बोलिए ! हिमाचली ब्लोगर्स ! हिंदी ब्लोगों की जीवनधारा ! ब्लोगर्स ट्रिक्स !

© : आधारशिला ! THEME: Revolution Two Church theme BY : Brian Gardner Blog Skins ! POWERED BY : blogger